शिक्षा

    प्राथमिक शिक्षा एक ऐसा आधार है जिस प्रदेश और उसके प्रत्येक नागरिक का विकास निर्भर करता है भारत में 14 साल की उम्र तक के सभी बच्चों को निशुल्क शिक्षा के लिए प्रयास करना है।

  • बाल अधिकार बच्चों के बाल अधिकार के हनन को रोकना और उनके अधिकारों को सुरक्षित करना।
  • नीतियों और योजनाओं द्वारा बच्चों को 6 से 14 साल की आयु के बच्चों को निशुल्क शिक्षा के अधिकार की जानकारी देना और उनके हितों की रक्षा करना।
  • बाल जगत को मल्टीमीडिया सामग्री के विभिन्न भाग विज्ञान खंड आदि के रचनात्मक सोच और सीखने की प्रक्रिया में बच्चों को सक्रिय भागीदारी को प्रोत्साहित करना।
  • ऑनलाइन मूल्यांकन ऑनलाइन मूल्यांकन द्वारा वेद संस्थानों और स्रोतों के सहायता से गणित विज्ञान भूगोल केशव मूल्यांकन प्रक्रिया दर्शाते हुए राज्य की राजधानी एवं भारत की नदियों के नाम और उनकी विशेषताओं के बारे में जानने का अवसर देना।
  • शिक्षा की ओर प्रवृत्त करने की पहल बुद्धिप्रभा सिद्धांत की व्याख्या करते हुए बुद्धि के प्रकार शाब्दिक एवं तार्किक आदि के बारे में प्रा. गार्लर ने जो मनोवैज्ञानिक सिद्धांत प्रस्तुत किया है उसको प्रत्येक व्यक्ति द्वारा सीखने की शैली और शिक्षा में उसके उपयोग की जानकारी देना।
  • कैरियर मार्गदर्शन भविष्य को बेहतर तरीके से आकार देना और विभिन्न अध्ययनों से 10 वीं कक्षा स्नातक के बाद मिलने वाले रोजगारों के बारे में अवगत कराना।
  • कंप्यूटर शिक्षा द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी की की जानकारी में इजाफा करते हुए उनसे होने वाले लाभों के बारे में अवगत कराना।
  • संसाधन लिंक सरकारी वैश्विक संसाधन प्रशिक्षण एवं आदान-प्रदान योग्य संसाधन बाल अधिकार एवं प्रचार संसाधनों की जानकारी देते हुए शिक्षा समाचार स्रोतों की उपयोगिता देते हुए शिक्षा समाचार स्रोत की उपयोगिता बताते हुए इस क्षेत्र में कार्यरत अंतरराष्ट्रीय अभीकरणों को जानने की जिज्ञासा उत्पन्न करना।
  • चर्चामंच शिक्षा से जुड़े विभिन्न विषयों पर अपने विचारों को प्रस्तुत करना और अन्य के साथ अपने विचारों का आदान प्रदान करना।
  • कौशल विकास योजना के अंतर्गत पर्सनालिटी डेवलपमेंट करना